विधना तेरे लेख किसी को समझ नही आते है ..