मात्र सामने वाली खिड़की मुझे ek चाँद का tukda rhta hai ... डीजे हिमांशु