Karauli - खिड़की विशेष

सोप उप तहसील मुख्यालय क्षेत्र के गांव रहीमनगर सड़क मार्ग के पास स्थित एक खेत में लहराती तिल की फसल

सरकार द्वारा काटी गई विवेक विहार योजना कॉलोनी के हालात खराब

चांधन क्षेत्र के पास रेल्वे ट्रेक पर एक व्यक्ति की रेल से कटकर मौत हो गई। शव क्षत विक्षत व्यक्ति की नहीं हो पाई शिनाख्त पाई है ट्रेक पड़ा शव दो घंटे बाद ट्रेक चालू मौके पर लाठी थाना पुलिस पहुंचकर शव रेलवे ट्रैक से हटाया लाठी स्टेशन पर सवारी गाड़ी खड़ी रही एक घंटे बाद सवारी गाड़ी जैसलमेर को रवाना करवाई

खिड़की विशेष शर्त लगाकर 2 किलो घी पिने वाले का हाल

अजमेर महाराणा प्रताप स्मारक महाराणा प्रताप की कुछ झलकियां डूंगर पर प्रसारित की जाती है आपने भी कभी रात को प्रसारित होने वाले डूंगर पर नहीं देखी होगी

सोशल मीडिया पर जोरो से वायरल होता पुलिस द्वारा नेता के पिटाई का वीडियो भरतपुर जिले के नगर थाना प्रभारी पालिका के वार्ड 5 से पार्षद व जनप्रतिनिधि वेदप्रकाश पटेल के बाल पकड़ कर थप्पड़ मार रहे है ,

चौमू थाना पुलिस ने अहीरो की ढाणी चौमू निवासी रामधन यादव के अपहरण के बाद हत्या करने के मामले में 48 घंटे में 6 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता अर्जित की है। पुलिस उपायुक्त विकास शर्मा ने बताया कि 17 अगस्त को परिवादी पहलवान यादव पुत्र श्यौला राम यादव निवासी अहीरो की ढाणी वार्ड नंबर 4 चौमू ने फूलचंद सुंडा, श्रवण गरेङ, उर्फ पटवारी, मालीराम सेपट, रामनारायण बराला, पिंटू डागर, योगेश स्वामी, मोहन लाल सैनी, कैलाश यादव, राजू स्वामी सहित अन्य के खिलाफ उसके भाई रामधन यादव का अपहरण करने एवं लकड़ी व सरियों से जमकर मारपीट करने के बाद उसे लहूलुहान हालत में चौमू बाईपास बराला अस्पताल के पास मरा हुआ समझकर पटककर फरार होने का मामला दर्ज कराया था। चूंकि आरोपी अलग-अलग जगह के रहने वाले थे। उनका रिकॉर्ड खंगाला गया। संबंधित स्थानों से सीसीटीवी फुटेज लेकर आरोपी की पहचान कर फोटोग्राफ प्राप्त किए गए। उनके द्वारा वारदात में काम लिये गए वाहन के रजिस्ट्रेशन नंबर व आरोपियों के मोबाइल नंबर प्राप्त किए गए। पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी थी कि 9 में से छह आरोपियों को दाता रामगढ़ जिला सीकर से हिरासत में ले लिया गया। इस पूरे खेल में मृतक की महिला मित्र का नाम भी चर्चा में है। बताया जा रहा है कि उसके कई थानों में बलात्कार और छेड़छाड़ के मामले दर्ज है। इस हत्या के पीछे भी छेड़छाड़ बलात्कार मामले में राजीनामे के नाम पर 25 लाख रुपए की मांग की गई थी। लेकिन सहमति नहीं बनी। इसके बाद आरोपी मालीराम ने मृतक रामधन से फोन पर बात कर उसे मंगलम सिटी स्थित महिला मित्र के फ्लैट पर बुलाया। फ्लैट के बाहर सड़क पर दोनों ने बातचीत की। इस दौरान मृतक का एक साथ ही वहां मौजूद था। इसके बाद अन्य आरोपी भी वहां आ गए और रामधन का अपहरण कर उसके साथ मारपीट कर। उसे मरा हुआ समझकर छोड़ कर चले गए। जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी।