Kota - इबादत

कोटा एलन से कोचिंग करने आए डॉक्टर का ₹50000 से भरा बैग ओला कैब ड्राइवर ने लौटाया कोटा 16 सितंबर। कोटा में एलन इंस्टीट्यूट से कोचिंग कर रहे हैं बेटे से मिलने आए एक व्यक्ति नोटों से भरा बैग टैक्सी में ही भूल गया। टेक्सी चालक ने ईमानदारी का परिचय देते हुए वह बैग रंगबाड़ी पुलिस चौकी को सौंपा। जिसे पुलिस की मदद से बैग मालिक की तलाश कर उसे रोक दिया गया। जानकारी के अनुसार वाराणसी के गाजियाबाद रोड पहारिया मकान नंबर 6/174 एबी निवासी डॉक्टर विनोद कुमार कुन्हाड़ी इलाके में रहकर एलन इंस्टिट्यूट से कोचिंग कर रहे बेटे से मिलने के लिए सुबह रेल मार्ग से कोटा पहुंचे थे कोटा रेलवे स्टेशन पर विनोद कुमार ने कुन्हाड़ी लैंड मार्क सिटी में जाने के लिए ओला कैब टैक्सी बुक कराई। जिस पर ओला कैफ टेक्सी आरजे 20 टीए 2596 ड्राइवर दिनेश कुमार डॉ विनोद को लेकर लैंड मार्क सिटी छोड़ कर आया इस दौरान टैक्सी से अपना लगेज उतारते समय डॉक्टर विनोद कुमार अपना नोटों से भरा बैग टैक्स में ही भूल गए जिसके बाद ओला कैब ड्राइवर अन्य बुकिंग पर श्रीनाथपुरम पहुंचे जहां पुणे गाड़ी में देख रहने की जानकारी मिलने पर डॉक्टर साहब को फोन पर सूचना दी बाद में ओला कैब ड्राइवर को बैग में नोट होने की भनक लगने पर उन्होंने रंगबाड़ी पुलिस चौकी पर पहुंचकर नोटों से भरा बैग चौकी इंचार्ज एएसआई हरविंदर सिंह को सौंप दिया और पूरी घटना की जानकारी दी। जिसके बाद पुलिज़ की मदद से बेग के मालिक को चौकी पर बुलाकर उन्हें उनका नोटों से भरा बैग सौंप दिया गया। रंगबाड़ी पुलिस चौकी इंचार्ज अरविंद सिंह ने बताया कि लैंडमार्क सिटी में रहकर एलन से नीट की तैयारी कर रहे छात्र के पिता सुबह छात्र से मिलने कोटा पहुंचे थे। जिन्होंने कुन्हाड़ी लैंडमार्क सिटी जाने के लिए ओला कैफ़ टेक्सी बुक कराई। नयापुरा पुलिया पर छात्र के पिता गाड़ी से उतरकर कोटा बैराज से छोड़े जा रहे पानी मैं सेल्फी लेने लगे। जिसके बाद वह ड्राइवर सीट के पास बैठकर कुन्हाड़ी लैंड मार्क सिटी पहुंचे। यहां डॉ विनोद अपना सामान उतारते समय नोटों से भरा बेग गाड़ी में ही भूल गए। टैक्सी ड्राइवर दिनेश को जानकारी लगने पर उन्होंने बैग चौकी पर सोफा। जिसे बाद में बैग मालिक को चौकी पर बुलाकर बैग मालिक को नोटों से भरा बैग सौंपा गया।