Tonk - स्वास्थय और खानपान

मौसमी बीमारियों की जानकारी । टोंक के पीपलू उपंखड के विभिन्न विद्यालयों में जाकर शुक्रवार को चिकित्सा विभाग के अधिकारियों ने मौसमी बीमारियों से बचने के लिए बच्चों को विभिन्न प्रकार की जानकारियां दी। चिकित्सा विभाग के एम.पी.डब्ल्यू भगवान सहाय मीणा ने बताया कि खंड मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर कमलेश चावला सत्यनारायण धाकड़ द्वारा डारडा तुर्की के देव विद्या मंदिर बगड़ी के शारदा बाल निकेतन माध्यमिक विद्यालय, आदर्श विद्या मंदिर, शिव शंकर विद्या मंदिर में मौसमी बीमारियों की जानकारी एवं स्वास्थ्य शिक्षा के साथ लारवा प्रदर्शन कर विद्यार्थियों व विद्यालय के स्टाफ के साथ विस्तार से चर्चा की वह जानकारी दी गई।

4 लाख 70 हजार बालकों के खसरा व रुबेला के लगाए जाएंगे टीके टोंक। बच्चों में होने वाली गंभीर बीमारियों खसरा-रूबेला से बचाने के लिए चिकित्सा विभाग की ओर से 22 जुलाई से अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान जिले के नौ माह से 15 वर्ष की आयु वर्ग 4 लाख 70 हजार बालकों के टीके लगाए जाने का लक्ष्य है। एएनएम ट्रेनिंग सेन्टर में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में चिकित्सा अधिकारियों ने लोगों से अपील की है कि वे अपने बच्चों को हर हाल में यह टीका लगवाएं ताकि इन बीमारियों से बचा जा सके। अभियान के तहत प्रथम दो सप्ताह जिले के सभी सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों, मदरसों में जाकर चिकित्सा टीम टीकाकरण करेंगी। इस के बाद यह अभियान सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में चलाया जाएगा।

ब्रेन ट्यूमर क्या है? क्या एक ब्रेन ट्यूमर का अपना पहला लक्षण थे?