Tonk - समाचार

राजस्थान पैरामेडिकल काउंसिल में रजिस्ट्रेशन कराने की है मांग को लेकर टोंक की सभी प्राइवेट लैबोरेट्रिया बंद रही। जयपुर में रैली में शामिल होने के लिए जिले के प्राइवेट लैबोरेट्री संचालक बसों से जयपुर रवाना हुए।

tonk : बीसलपुर बांध फुल, गेट खोले,

बीसलपुर बांध के अधीक्षण अभियंता ने दिया अपडेट बीसलपुर बांध के अधीक्षक अभियंता एक अद्यतन दे दी है

बीसलपुर डैम के गेट खोलने से बनास नदी का बहाव हुआ तेज ...रविवार को पानी का जलस्तर बढ़ने के साथ-साथ बिसलपुर के सभी गेट खोल दिए गए जिससे नदी के पानी का प्रभाव तेज गति से बहने लगा .....

बीसलपुर बांध टोंक / बीसलपुर बांध टोंक राजस्थान

बीसलपुर बांध से भारी मात्रा में पानी छोड़ा जा रहाmassive water is being released from bisalpur dam

बीसलपुर बांध बना आकर्षण का केंद्र,6 गेट खोले गएbisalpur dam becomes center of attraction

पानी के दबाव से हिलने लगी पुलिया यातायात बंद बूंदी से कोटा को जोड़ने वाली नयापुरा पुलिया कोटा बैराज से छोड़े जा रहे भारी पानी के चलते हिलने लगी है। जिसके चलते भारी वाहनों की आवाजाही पुलिया से बंद कर दी गई है। बूंदी से जाने वाले लोगों को कुन्हाड़ी पर ही उतारा जा रहा है। लोग पैदल ही पुलिया पार कर रहे हैं।

बीसलपुर से अधिक brims, 8 द्वार खोलता है, बीसलपुर से छोड़ा जा रहा एक लाख 44 हजार 240 क्यूसेक पानी

बीसलपुर बांध से लगातार छोड़े जा रहे पानी से बनास नदी में बहाव तेज होता जा रहा हैं। बनास पुलिया के यहां घूमने गए गिरिराज सिंह, गोपाल सिंह, कजोड़मल को करीब 20 गोवंश का झुंड बहता नजर आया। बहाव तेज होने पर यह पुराने फ्रेजर पुल पर गए। जहां 3 गायों को तो कॉर्नर पर आने पर सुरक्षित बाहर निकाल लिया। साथ ही अन्य गोवंश को बचाने के लेकर इन्होंने चिरोंज गांव के परिचितों को फ़ोन किया तथा गोवंश के झुंड पर नजर रखने को कहा। जहां बनास नदी के सकड़ी होने पर गायों के झुंड कॉर्नर पर आने से उन्हें मशक्कत कर बचा लिया गया। इनमें से 14 गायों को सुरक्षित बाहर निकाल कर जंगल की ओर छोड़ दिया। वहीं 3 गाय बहाव में बह गई। इस दौरान कुलदीप चौधरी ने भी इस बचाव कार्य में सहयोग किया।

टोंक में बने बीसलपुर बांध के खोले सभी 18 गेट.त्रिवेणी के पानी का स्तर ज्यादा होने के कारण बीसलपुर में लगातार पानी की वर्दी हो रही है...इसी बढ़ते हुए पानी को देखकर रविवार शाम को बीसलपुर बांध के सभी अट्ठारह गेट खोल दिए गए!

निजी पैरामेडिकल की लंबित मांगो को लेकर सोमवार को प्राइवेट लैबोरेट्रीया बंद रही, राजस्थान पैरामेडिकल काउंसिल मे रजिस्ट्रेशन कराने की है मांग जयपुर में रैली होगी, इसके के टोंक से रवाना होते प्राइवेट लेबोरेट्री संचालक l

देखिये बीसलपुर बांध के सभी 17 गेट खुलने का अद्भुत नजारा

बीसलपुर बांध के खोले गए 17 गेट, तेज गति से टोंक बनास नदी में आ रहा है पानी: - टोंक

बीसलपुर बांध का ताजा अपडेट,8 गेट ढाई-ढाई मीटर खोलेlatest update of bisalpur dam, 8 gates open

टोंक - बीसलपुर बांध से बनास नदी में पानी की निकासी रविवार को भी जारी

न्यूज सोप उपतहसील क्षेत्र के कोटड़ी गांव में चल रहे तीन दिवसीय देहलवाल मेले के दूसरे दिन हजारों लोगों ने लोक देवता तेजाजी के ढोक लगा परिवार की सुख समृद्धि की कामना की।रविवार को सुबह से ही कोटड़ी सहित रोशनपुरा,नजीरपुरा, सेदरी,रघुनाथपुरा, आदि गांवों से ग्रामीणों का कार, जुगाड़, बाइक, पैदल आना प्रारम्भ हो गया था। देखते ही देखते श्रद्धालुओं की तादाद हजारों में पहुंच गई। देहलवाल बाबा के मन्दिर में परिक्रमा लगा ढोक दे भक्त अपने परिवार की कुशलता की कामना कर रहे थे।मेले के दुसरे दिन आसपास के गांवों के लोक कलाकारों ने वीर तेजाजी बाबा के भजनों की प्रस्तुतियां दी।बाग की झुपडीया के गायक रमेश सैनी ने तेजाजी के अलगोजा गायन के माध्यम से तेजाजी महाराज के ससुराल जाने का बखान करते हुए धार्मिक गीतों की प्रस्तुतियां देकर भक्तों को भाव विभोर किया। इस दौरान मेले में कीड़ों के दंश से पीड़ित सैकड़ों लोगों की तांतियां काटी गई।मेले में दुकानों पर अधिकतर बच्चों के खिलौने, मिट्टी के बर्तन, मिठाइयां आदि खरीदने वालों की काफी भीड़ देखने को मिली।मेले में समाजसेवी चरत लाल मीना द्वारा छाया पानी की व्यवस्था की गई थी।कोटड़ी चोराहा लालसोट दोसा मेगा हाईवे पर श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ था।शांति सुरक्षा की दृष्टि से सोप थाने से एएसआई फरहत उल्ला खां के साथ पुलिस बल मौजूद था।

सोप उप तहसील मुख्यालय क्षेत्र की मोहम्मदपूरा ग्राम पंचायत के ग्राम कोटडी में आराध्य देव तेजाजी महाराज का दो दिवसीय ‌मेला शुरू ।इस अवसर जागरण में तेजाजी के भजनों की प्रस्तुति देते गायक कलाकार तेजाजी के भजनों पर नाचते हुए डांसर

बीसलपुर बांध में कमजोर पड़ी आवक, 6 गेट खोलकर निकासीbisalpur dam weakly inbound, 6 gates open